पंपोर हमले पर एन्जॉय करो कहने वाले पाक हाई कमिश्नर से RSS ने इफ्तार पार्टी का न्यौता वापस लिया

28 जून

नईदिल्ली। मुस्लिम राष्ट्रीय मंच ने मंगलवार को भारत में पाकिस्तान के उच्चायुक्त अब्दुल बासित को दिया इफ्तार पार्टी का न्यौता वापस ले लिया है। बासित ने पंपोर आतंकी हमले पर बेतुका बयान दिया था और शहीद हुए जवानों का मजाक उड़ाया था। संसद परिसर में 2 जुलाई को इफ्तार पार्टी होनी है इसके लिए अब्दुल बासित को भी न्यौता भेजा गया था।

पंपोर हमले के बाद मीडिया ने अब्दुल बासित से सवाल किया तो उन्होंने कहा था कि ये रमजान का महीना है, अभी इफ्तार की पार्टी है, ''मुझे जो बात कहनी थी, कह दी। इस बारे में अौर कुछ नहीं कहना चाहूंगा। मैं आपसे दरख्वास्त करता हूं कि इफ्तार पार्टी है। लेट्स हैव... यू नो इफ्तार पार्टी...एंड एन्जॉय आरसेल्व्स।''

मुस्लिम राष्ट्रीय मंच को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ से मान्यता प्राप्त संगठन माना जाता है। इसका गठन साल 2002 में आरएसएस प्रमुख केएस सुदर्शन के पहल के बाद किया गया था। राष्ट्रीय मुस्लिम मंच दिल्ली में इस बार एक बड़ी इफ्तार पार्टी ऑर्गनाइज कर रहा है जिससे कि संघ की ‘मुस्लिम विरोधी’ इमेज बदलने की कोशिश होगी। इस पार्टी में शामिल होने के लिए कई मुस्लिम कंट्रीज के डिप्लोमेट्स को इनविटेशन भेजा गया है।

पिछले साल भी जुलाई में राष्ट्रीय मुस्लिम मंच ने पार्लियामेंट एनेक्सी बिल्डिंग में रोजा इफ्तार पार्टी दी थी। इस दौरान देश भर से आए मुस्लिम लीडर और मुस्लिम देशों के डिप्लोमेट शामिल हुए। पार्टी में पीएम मोदी और प्रेसिडेंट प्रणब मुखर्जी को भी इनवाइट किया गया था। हालांकि ये दोनों ही पार्टी में नहीं पहुंचे थे।

 

 

देश से सम्बंधित अन्य ख़बरें पढ़ें

 

 

Total votes: 13