घुटने के दर्द में कसरत से पाएं आराम

03  सितम्बर

यदि कसरतों से मिलने वाले सारे फायदे किसी टैबलेट में दिए जाते तो वह दुनिया की सबसे ज्यादा बिकने वाली दवा बन जाती। यह भी सच है कि जब घुटने में दर्द हो रहा हो तो कसरत करना असंभव सा होता है। पर आपके लिए यही अच्छा होगा कि जल्दी से जल्दी कसरतों की और लौट जाएं। इससे आपके घुटनों को स्थाई आराम मिलेगा।

ऑस्टियोऑर्थ्राईटिस के कारण घुटने के दर्द के लिए कसरतों से बढ़कर दूसरा कोई परंमानेंट इलाज नहीं है। घुटनों के दर्द से जुझ रहे मरीजों के लिए एरोबिक टाइप कसरतें जैसे साइकल चलाना, पैदल चलना, स्वीमिंग करना आदि ठीक होती हैं। कसरतों से घुटनों पर कोई झटका नहीं पड़ता साथ ही जांघों की मांसपेशियां भी मजबूत हो जाती है। ऑस्टियोऑर्थ्राईटिस के मरीजों के लिए पैदल चलने वाली कसरत करना मुश्किल होता है। ऐसे मरीजों को वाटर एरोबिक्स के साथ स्वीमिंग या स्टेशनरी सायकल चलाने का अभ्यास करना चाहिए। जिम्नेशियम में मौजूद एलिप्टिकल मशीन भी ऐसे मरीजों के लिए फायदेमंद होती है।

रेंज ऑफ मोशन एक्सरसाइज

घुटने के जोड़ों की मोबिलिटी को बढ़ाने के लिए घुटना धीरे से जितना संभव हो उतना अंदर की और मोड़े। इसी स्थिति में 10 से 20 सेंकड तक रुकने की कोशिश करें। इसके बाद पैर को पूरी तरह फैला लें, इससे घुटना सीधा हो जाएगा। पंजे को जितनी दूर तक खींच सकते हैं, खीचें और 10 से 20 सेंकड तक यही स्थिति बनाएं रखें। स्ट्रेचिंग और रेंज ऑफ मोशन एक्सरसाइज झटके के साथ न करें।

Total votes: 252