ऑटिस्टिक बच्चों से कराएं ये व्यायाम

7 जून

फिजियोथैरेपी ऑटिस्टिक बच्चों के लिए बहुत उपयोगी है। लेकिन साथ ही कुछ बेहद सामान्य गतिविधियां भी इस तरह के बच्चों के विकास व उनके ओरिएंटेशन के लिए उपयोगी हैं। कुछ ऐसी गतिविधियां जिन्हें आप स्वयं भी करवा सकते हैं। आप इन गतिविधियों के माध्यम से बच्चों के पॉश्चर, संतुलन और तालमेल को सुधार सकते हैं। बच्चे की जरूरत के हिसाब से आप गतिविधि चुन सकते हैं।

संतुलन बनाएं रखने के लिए
बच्चों को एक पैर पर खड़े रहने के लिए ट्रेनिंग दें। हूप, फिसलना और पीछे की तरफ चलने के लिए ट्रेन करें। बच्चे के सिर पर किताब रखकर उसे चलने के लिए प्रेरित करें। उसके रास्ते में थोड़ी अड़चन भी डाले ताकि वह उसके साथ सही तालमेल बैठा पाए।

बच्चों से काम करने की क्षमता को सुधारना
बच्चे को फर्श पर लुढ़कने के खेल का आनंद लेने दें। घुटनों पर बैठने और चलने का अभ्यास कराएं। उठक-बैठक करने और अलग-अलग दिशा में दौड़ने के लिए प्रेरित करें। फिजियोथैरेपी के साथ-साथ ऑटिस्टिक बच्चों को घर पर ही सरल गतिविधियां करवाएं, जो उन्हें खेल की तरह भी लगें और उनके लिए उपयोगी भी हो। अलग-अलग तरह की सरफेस जैसे घास, कारपेट, रेत और पेबल पर चलाएं, ताकि वह अपना संतुलन ठीक तरह से बना पाएं।

Total votes: 42