बिल भुगतान के बदले क्लर्क मांग रहा था रिश्वत, लोकायुक्त पुलिस ने दबोचा

26 जून

इंदौर। मध्य प्रदेश के जिला इंदौर में लोकायुक्त पुलिस ने रजिस्ट्रार ऑफिस के सीनियर क्लर्क को तीन हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों धर दबोचा । क्लर्क ने बिल पास करने के एवज में रिश्वत मांगी थी।

लोकायुक्त पुलिस के डीएसपी बीएस परिहार ने बताया कि, ट्रैवल्स संचालक सुजात कबीर ने शिकायत में कहा कि रजिस्ट्रार ऑफिस में उसके ट्रैवल्स के माध्यम से चार गाड़ियां अटैच है। इन गाड़ियों का करीब सवा दो लाख रुपए बकाया हो गया था।

बिल की राशि को जारी करने के एवज में क्लर्क मुल्लूसिंह बघेल रिश्वत देने के लिए दबाव बना रहा था। सुजात पहली किश्त में 1500 रुपए दे चुका था। इसके बाद भी बघेल ने तीन हजार रुपए देने के लिए दबाव बनाया तो उसने लोकायुक्त पुलिस को शिकायत कर दी।

शिकायत की तस्दीक के बाद लोकायुक्त पुलिस की टीम ने शनिवार सुबह ऑफिस खुलने के कुछ ही देर बाद क्लर्क को रिश्वत लेते रंगे हाथों धर दबोचा।

रिश्वतखोर क्लर्क मुल्लूसिंह बघेल ने रिश्वत की राशि शर्ट की जेब में रखी थी। लोकायुक्त पुलिस ने शर्ट को भी जब्त कर लिया। उसके खिलाफ भ्रष्टाचार निरोधक अधिनियम के तहत केस दर्ज किया गया है

 

Total votes: 11