महिदपुर में रही तनाव की स्थिति, एक दर्जन से ज्यादा दंगाई गिरफ्तार

4 जून

उज्जैन। मध्य प्रदेश में इंदौर और उज्जैन के बीच महिदपुर में दो पक्षों में विवाद के बाद भड़की हिंसा में पुलिस ने अब तक एक दर्जन से ज्यादा दंगाईयों को गिरफ्तार कर लिया है। झड़प और पथराव के पास इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है। जबकि पुलिस को उपद्रवियों पर काबू पाने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े थे।

उज्जैन जिले के महिदपुर में आज भी शहर में सन्नाटा पसरा रहा। ऐहतियातन शहर के पूरे बाजार बंद है। धारा 144 लागू होने की वजह से ग्रामीणों की भी शहर में आवाजाही न के बराबर ही है। वहीं, जिले के आला पुलिस अफसरों ने महिदपुर में डेरा डाल दिया है। आसपास के जिलों से अतिरिक्त पुलिस फोर्स बुलाकर उसे संवेदनशील इलाकों में तैनात किया गया है।

यह है मामला

मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में एक शातिर बदमाश का मुंह काला करके, कथित तौर पर जूते मारते हुए जुलूस निकालने जाने के बाद शुक्रवार को हालात तनावपूर्ण हो गए थे। दो पक्षों में हुई झड़प और पथराव के पास इलाके में धारा 144 लागू कर दी गई है।

बताया जा रहा है कि बदमाश का इस कदर जुलूस निकाले जाने के विरोध में कुछ लोग ज्ञापन सौंपने जा रहे थे, इस बीच रास्ते में खड़े कुछ लोगों से उनकी झड़प हो गई। देखते ही देखते दोनों गुट एक-दूसरे पर पथराव करने लगे। जिसके बाद स्थिति और बिगड़ गई और लोगों ने दुकानों और वाहनों में तोड़फोड़ शुरू कर दी। इसकी सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और बल का प्रयोग करते हुए सभी को वहां से खदेड़ा। इलाके में तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। साथ ही धारा 144 भी लागू कर दी गई है।

निकाला था जुलूस

पूरा मामला जिले के महिदपुर थाना इलाके का है। जहां गुरुवार दोपहर पुलिस ने गिरफ्तार आरोपी कादर को चार पहिया वाहन पर बांधकर उसका सरेराह जुलूस निकाला। जनता के मन से बदमाश का खौफ खत्म करने के लिए पुलिसकर्मियों ने उसके गले में जूतों का हार पहना दिया।यही नहीं, आरोपी का मुंह काला करके रास्तेभर पुलिस के जवानों ने जमकर उसकी पिटाई लगाई। इस मामले की खबर फैलते ही लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी। आरोपी का पूरे शहर के चौक-चौराहे और गलियों में जुलूूस निकाला गया, यह देख जनता ने बढ़-चढ़ कर जिंदाबाद के नारे लगाकर महिदपुर पुलिस का अभिवादन किया। वहीं इस वाकये की तस्वीरें सामने आने पर एक उप निरीक्षक और चार पुलिस जवानों को निलंबित कर दिया गया है।

बताया गया कि बदमाश कुछ दिन पहले महिदपुर थाने के टीआई श्यामचन्द्र शर्मा सहित आरक्षक भगवान सिंह पर हमला करके भाग गया था। इस घटना में पुलिसकर्मी घायल हो गए थे। उसी समय से महिदपुर पुलिस को आरोपी की तलाश थी।

 
इंदौर से सम्बंधित अन्य ख़बरें पढ़ें
 

Total votes: 45