साढ़े चार साल के बच्चे ने सुनाईं पुर्नजन्म की कहानी

28 जून

मुरादाबाद। साइंस भले ही कितनी भी तरक्की कर चुका हो लेकिन आज भी जीवन और म‌ृत्यु जैसे रहस्यों का साइंस के पास कोई जवाब नही है। पुर्नजन्म की एक ऐसी ही कहानी सामने आई है। मुरादाबाद जनपद की बिलरी तहसील के तारापुर गांव में लगभग एक साढ़े चार साल के बच्चे राजेश ने अपने पुर्नजन्म की कहानी बताई, जिसे सुनकर लोग हैरत में है।

जानकारी के अनुसार लगभग साढ़े चार साल का बच्चा खुद को 35 वर्ष का पप्‍पू बता रहा है। रामपुर जनपद के खरसौल निवासी विशंभर उर्फ पप्पू की वर्ष 2010 में गोली मारकर हत्‍या कर दी थी। लगभग साढ़े चार साल का राजेश खुद के पुनर्जन्‍म की बात कहता है। राजेश खुद को 35 साल का पप्पू बताता है।

दरअसल मुरादाबाद जिले के तारापुर में जन्मे राजेश की उम्र लगभग साढ़े चार साल है। थोड़े दिन पहले राजेश अपने माता-पिता के साथ तारापुर से दो किलोमीटर दूर रामपुर के खरसौल गांव में गया था। यहां राजेश एक पकौड़ी के ठेले पर पहुंचा और दुकानदार रिंकू की गोद में चढ़ गया। पूछने पर उसने खुद को रिंकू का पिता पप्‍पू उर्फ विशंभर बताया, जिसकी 2010 में हत्‍या हो गई थी। बच्‍चे की इन बातों ने सबको चौंका दिया। राजेश ने पहले तो अपने मरने की पूरी घटना बताई। फिर उस घटनास्‍थल का जिक्र किया, जहां पप्‍पू को गोली मारी गई थी। घटनास्थल के पास खंबे की ओर इशारा करते हुए खुद को गोली मारे जाने की दास्‍तां सुनाई। अपनी पीठ पर गोली का निशान भी दिखाया। बता दें कि पप्‍पू की भी पीठ में ही गोली लगी थी। इसके बाद वह बिना किसी के बताए रिंकू के घर पहुंचा। घर में लगी मृतक पप्पू की फोटो पर उंगली रखकर उसे अपना फोटो बताया। इसके बाद मृतक पप्‍पू की पत्‍नी लक्ष्‍मी की गोद में जा बैठा और उसे अपनी पत्‍नी बताने लगा। यही नहीं, राजेश ने घर में किए गए बदलाव के बारे में भी पूछा।

खरसौल निवासी विशंभर उर्फ पप्पू बाजार में पकौड़ी का ठेला लगाता था। इसके अलावा वह निंबस कंपनी के लिए बीमा कराने का काम भी करता था। पप्पू की अपने मौसेरे भाई राकेश से घरेलू विवाद के चलते एक दिन ठेले पर ही मारपीट हो गई थी। मामला पुलिस तक पहुंचा और दोनों को जेल में बंद कर दिया गया। परिवार की मानें तो राकेश इसके बाद पप्पू से रंजिश रखने लगा था। 2010 में एक दिन पप्‍पू ठेला लेकर घर लौट रहा था, तभी रास्‍ते में खंबे के पास राकेश ने उसे गोली मार दी। गोली पप्पू की पीठ में लगी और उसकी मौत हो गई। कुछ महीनों बाद पुलिस ने भी केस बंद कर दिया।

वहीं, मृतक पप्‍पू की पत्‍नी लक्ष्‍मी भी राजेश को अपना पति बता रही हैं। उधर, राजेश जिस परिवार में पैदा हुआ है, वो भी अब इसे पप्‍पू मानने लगा है। उनका कहना है, राजेश में पप्पू की आत्मा वास करती है। राजेश हमेशा रिंकू के घर जाने के लिए जिद करते हुए अपने आपको थप्‍पड़ मारता था। हैरान करने वाली बात ये है कि परिवार ही नहीं बल्कि पूरा खरसौल और आस-पास के गांव वालों का मानना है कि पप्‍पू का पुनर्जन्म हुआ है।

 

Total votes: 23